रायसीना डायलॉग में आपका तहेदिल से स्वागत है!

Samir Saran

रायसीना डायलॉग में ORF प्रेसिडेंट समीर सरन का स्वागत भाषण।

रायसीना डायलॉग, ORF, Raisina 2019, Raisina Dialogue, समीर सरन
Photolabs@ORF

नार्वे की प्रधानमंत्री महामहिम, सुश्री एर्ना सोलबर्ग;

भारत के माननीय प्रधानमंत्री, श्री नरेन्द्र मोदी जी;

माननीय विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज जी;

मंत्रिगणों, एडमिरल्स, जनरल्स और दुनिया भर से आए प्रतिष्ठित नेतागणों; तथा हमारे प्रतिनिधियों और प्रतिभागियों

रायसीना डायलॉग के चौथे संस्करण में आपका स्वागत है।

हमारे ऑनलाइन ऑडीअन्स का भी खासतौर पर अभिनंदन — मुझे बताया गया है कि पिछले साल उनकी संख्या 3 मिलियन से ज्यादा थी।

हमें उम्मीद है कि इस साल यह संख्या और भी ज्यादा होगी, क्योंकि इस बार हम रायसीना को मराठी और हिंदी में ट्वीट और कवर करेंगे तथा प्रतिदिन हिंदी में ‘बेस्ट आफ रायसीना’ वीडियो तैयार करेंगे।

मैं 92 देशों से आए 600 प्रतिनिधियों और वक्ताओं का हार्दिक स्वागत करता हूं, जो नई दिल्ली में हमारे साथ 50 घंटे की बहस और चर्चाओं में शामिल रहने वाले हैं। हमें इस बात की खासतौर पर खुशी है कि आज हमारे बीच काफी संख्या में वुमन लीडर्स और वक्ता मौजूद हैं — समस्त प्रतिनिधियों और वक्ताओं में से 40 प्रतिशत से अधिक महिलाएं हैं। अगले साल हम ​इस दिशा में बराबरी लाने की कोशिश करेंगे।

हमें अफ्रीका से पधारे 58 प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है — एक महाद्वीप, जिसकी आवाज को आवश्यक तौर पर हमारे भविष्य को बहुत अधिक प्रभावित करना चाहिए। हम अफ्रीका के साथ मजबूत रिश्ते बनाने के इच्छुक हैं — और 10 जनवरी को आप इस रोचक महाद्वीप में एक ग्लोबल डिवेलपमेंट प्लेटफॉर्म की मेजबानी करने की हमारी योजनाओं को जानेंगे।

रायसीना यंग फैलोज़ का तहेदिल से स्वागत। इस साल 29 देशों के 48 यंग लीडर्स यहां पधारे हैं — जो अपने देश की सरकार, मीडिया, व्यापार और सिविल सोसायटी के बेहतरीन प्रतिनिधि हैं। मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इनमें आधे से अधिक युवतियां हैं। ये लगभग 1,500 पूर्व सदस्यों के लगातार बढ़ रहे नेटवर्क में शामिल हो जाएंगे, जिनमें से 100 से अधिक सदस्य इस साल फिर से हमारे साथ जुड़ने जा रहे हैं।

हमने इस मंच पर 200 छात्रों और युवा विचारकों को भी आमंत्रित किया है, जिनमें रूस का एक युवा प्रतिनिधिमंडल शामिल है। हम इस समूह का तहेदिल से स्वागत करते हैं और उस दुनिया के बारे में इनके विचार जानने को उत्सुक हैं, जो इन लोगों को विरासत में मिलने वाली है। हम अपने मंच को अलग बनाना चाहते हैं — हम इसे एक ऐसा स्थान बनाने की कोशिश कर रहे हैं, जहां युवाओं के विचार भविष्य में होने वाले विचार-विमर्शों को आकार दे सके।

हम इस साल रायसीना में होने वाली बातचीत और विचार-विमर्श में आप सभी का स्वागत करते हैं!

इस साल हम 80 से ज्यादा चर्चाओं का आयोजन करने जा रहे हैं: अगले तीन दिन तक 41 पैनल्स, 7 प्रमुख भाषणों, 3 अनौपचारिक वार्तालाप, 25 से अधिक स्टूडियो पैनल्स और 9 संबद्ध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

मैंने और मेरे सहयोगियों ने ऐसा वातावरण बनाने का प्रयास किया है, जो विविधता और प्रतिभा की दृष्टि से समृद्ध हो तथा चर्चा और विचार-विमर्श के लिए अनुकूल हो।

मुझे यकीन है कि अगले दो दिन जानकारी और उत्साह से भरपूर होंगे, और निश्चित रूप से उन प्रस्तावों और साझेदारियों के रूप में परिणत होंगे, जिनसें हमें हमारी गतिशील और जटिल दुनिया का मार्गदर्शन करने में मदद मिलेगी।

रायसीना डायलॉग 2019 में आपका तहेदिल से स्वागत है!

मैं प्रारंभिक उद्बोधन के लिए ORF के अध्यक्ष श्री संजय जोशी का स्वागत करता हूं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s